hasmukh amathalal

Gold Star - 10,433 Points (17/05/1947 / Vadali, Dist: - sabarkantha, Gujarat, India)

रानी बनकर रह जाएंगी। rani bankar


रानी बनकर रह जाएंगी।

मुझे मालूम था, तुम घर पर आओगी
सब के सामने मेरा, मजाक उड़ाओगी
में शर्म का मारा कुछ बोल न पाउँगा
घरवालों को कैसे मे रोक पाउँगा?

रोना था उसको, मुझे रुला गयी
प्यार का मतलब मुझे समझा गयी
मेंने सोचा था वो गुड़िया हीं रहेगी
मेरी बातोंको हमेशा मानती रहेगी।

वो तो बन गयी झाँसी कि रानी
सब की बन गयी हैरानी परेशानी
लोग पूछने लगे, क्या बात हो गयी?
मुझे शर्म के मारे पानी पानी कर गयीं।

मैंने मेरा मन खुला कर दिया
जो था दिल मे उसे उजागर कर दिया
वो जान गयी, मे रह ना पाउंगा
उसी का कहा मानूँगा ओर कभी ना तड़पाऊँगा।

वो तो हो गयीं शेरनी की नानी
उतर आई रुखपर करने मनमानी
पहला दांव उसने घरपर मारा
में तो हो गया हककाबक्का ओर अधमरा।

उसने चाहा था मुझे बहुत प्यार से
में भी चाहने लगा था बड़े चाव से
अंदर से वो फौलाद थी वो मैने ना जाना
हमने तो मांगा था बस सफ़र सुहाना।

शेर को सवा शेर मिल जाते है
कई तो सुनते ही बिच मे छोड़ जाते है
मेरी भी हाल कुछ ऐसा होने लगा है
प्यार का रोग अब महंगा लगनें लगा है।

प्यारा तो महज भावना हैं, हो ही जाता है
किसी को हंसाता ओर किसी को रुलाता है
मैंने सोचा वो कुछ समज नही पाऐगी
बस घर कि रानी बनकर रह जाएंगी।

Submitted: Saturday, May 10, 2014
Edited: Saturday, May 10, 2014

Topic(s): poem


Do you like this poem?
0 person liked.
0 person did not like.

What do you think this poem is about?



Read this poem in other languages

This poem has not been translated into any other language yet.

I would like to translate this poem »

word flags

What do you think this poem is about?

Comments about this poem (रानी बनकर रह जाएंगी। rani bankar by hasmukh amathalal )

Enter the verification code :

Read all 5 comments »

New Poems

  1. Unnamed Emotions, Monica Mohan
  2. Canon fire, Cee Bea
  3. Haiku ' Sea', miken newman
  4. The House on the Hill, Cathy Hodgson
  5. Haiku 8, Kim Barney
  6. $hOpErS LOVe $hOpIng - but, sEaN nOrTh
  7. Tras mis párpados, Sergio Jaime
  8. Future Fast Forward, Nalini Jyotsana Chaturvedi
  9. pillow cases are never solved, Mandolyn ...
  10. Infanticide, Saiom Shriver

Poem of the Day

I

Our life is twofold; Sleep hath its own world,
A boundary between the things misnamed
Death and existence: Sleep hath its own world,
And a wide realm of wild reality,
...... Read complete »

 

Modern Poem

poet May Swenson

 

Member Poem

Trending Poems

  1. Annabel Lee, Edgar Allan Poe
  2. The City Planners, Margaret Atwood
  3. The Raven, Edgar Allan Poe
  4. Dreams, Langston Hughes
  5. Do Not Go Gentle Into That Good Night, Dylan Thomas
  6. In Flanders Field, John McCrae
  7. I Know Why The Caged Bird Sings, Maya Angelou
  8. Alone, Edgar Allan Poe
  9. If, Rudyard Kipling
  10. A Little Song Of Life, Lizette Woodworth Reese

Trending Poets

[Hata Bildir]