Learn More

hasmukh amathalal

Gold Star - 14,313 Points (17/05/1947 / Vadali, Dist: - sabarkantha, Gujarat, India)

' बस होगा ही अच्छा 'bas hoga hi


' बस होगा ही अच्छा '

मुझे दुःख जताने की कोई जरुरत नहीं
उम्मीदे कोई शोहरत भी कोई है ही नहीं
फिर भी तुम मेरे पास हो कोई वजह से
क्या कहूं दिलसे तुम कौनसी जगहपर हो बसे।.

नहीं लगती कोई मेरी किसी भी रिश्ते से
फिर भी बंधी हो गुमनाम सी एक डोरी से
में खींचा चला आता हूँ मंत्रमुग्ध सा
तुम ही तो हो आकर्षण जैसे सुगंध सा।

न ही तुम मेरी किश्ती की डोर हो
न ही कोई बारिश की बौछार हो
मै फिर भी कुछ ऐसा महसूस करता हूँ
हलके से मुस्कुराकर अपना सा एहसास करता हूँ

मेरा आसमान तुम बन चुकी हो
दिलो दिमाग पर पूरी छा चुकी हो
कहना कुछ बाकी नहीं और लिखने कि कोई हिम्मत नहीं
लगता है तुम्हारा मिलन हमारे किस्मत में नहीं।

अब जो भी होना है बस खोना है
उनके जाने का गम दिलमे बसाना है
कुछ और कर सकेतो उनकी मन्नत करना है
बस दिल कि बात सामने करने कि हिम्मत करना है।

बैरी पवन खुश्बू बिखेर रहा है
मेरी खस्ता हालात पर स्मित रैला रहा है
में सुधबुध खोकर सुन्न सा हो गया हूँ
बस न चाहते हुए भी खिन्नं हो गया हुँ।

कुछ रिस्ते ऐसे ही बन जाते है
वो अपने आपमें बेमिसाल होकर रह जाते है
इसको समजने की या कहने की आवश्यकता नहीं
बस सोच लो और समज लो येही नाजुकता है सही।

मैंने सोच लिया है 'कुछ न कुछ तो करना ही होगा'
मेरा सपना खुद ही संवारना या संजोना होगा
वो कभी कहकर व्यक्त नहीं कर पाएंगे महेच्छा
बस हम ने सोच लिया है ' जो भी होगा बस होगा ही अच्छा '

Submitted: Friday, February 21, 2014

Do you like this poem?
1 person liked.
0 person did not like.

What do you think this poem is about?



Read this poem in other languages

This poem has not been translated into any other language yet.

I would like to translate this poem »

word flags

What do you think this poem is about?

Comments about this poem (' बस होगा ही अच्छा 'bas hoga hi by hasmukh amathalal )

Enter the verification code :

Read all 18 comments »

New Poems

  1. He bought Love, Charles Jagongo
  2. No veg', george albot
  3. All a Round, Ima Ryma
  4. And now, hold my hands O mortal!, Preeth Nambiar
  5. Kaamnaa (DESIRE), Aftab Alam
  6. Truth is his name, Aftab Alam
  7. Train to destiny, Aftab Alam
  8. The Best Day, Meriam Joseph
  9. Harken, The Rain comest, Sir Toby Moses
  10. I am blind, Aftab Alam

Poem of the Day

poet Katharine Lee Bates

O beautiful for spacious skies,
For amber waves of grain,
For purple mountain majesties
Above the fruited plain!
America! America!
...... Read complete »

   

Member Poem

Trending Poems

  1. 04 Tongues Made Of Glass, Shaun Shane
  2. Do Not Go Gentle Into That Good Night, Dylan Thomas
  3. The Road Not Taken, Robert Frost
  4. Daffodils, William Wordsworth
  5. All the World's a Stage, William Shakespeare
  6. I Know Why The Caged Bird Sings, Maya Angelou
  7. Fire and Ice, Robert Frost
  8. Stopping by Woods on a Snowy Evening, Robert Frost
  9. O Captain! My Captain!, Walt Whitman
  10. If, Rudyard Kipling

Trending Poets

[Hata Bildir]